वीडियो वायरल कर सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की कोशिश, ट्विटर समेत 9 पर FIR

गाजियाबाद। यूपी में एक बार वीडि‍यो वायरल करके साम्‍प्रदायि‍क माहौल खराब करने की कोशि‍श की गई। दिल्ली से सटे गाजियाबाद के लोनी में ऑटो चालक व अन्य युवकों द्वारा बुजुर्ग की पिटाई व दाढ़ी काटने का वीडियो वायरल होने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। लोनी पुलि‍स ने ट्वि‍टर समेत 9 पर एफआईआर दर्ज की है। पुलि‍स क्षेत्राधि‍कारी लोनी अतुल कुमार ने बताया कि‍ खुफिया एजेंसियों की जांच में सामने आया कि वीडियो वायरल करने के पीछे लोनी के एक नेता का हाथ है। उधर, मंगलवार को बुजुर्ग की पिटाई के दो आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 

बताया जाता है कि‍ बुलंदशहर निवासी बुजुर्ग झाड़-फूंक और ताबीज बनाने का काम करता है। बंथला निवासी प्रवेश गुर्जर ने बुजुर्ग से ताबीज बनवाया था। प्रवेश का आरोप है कि ताबीज पहनने के बाद उसे नुकसान हो गया। पांच जून को लोनी पहुंचे बुजुर्ग के साथ प्रवेश और उसके साथियों ने मारपीट की। बुजुर्ग ने सात जून को लोनी बार्डर थाने में युवकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। 

पुलिस ने आरोपित प्रवेश को जेल भेज दिया था। उसके साथियों की तलाश जारी थी। मंगलवार को दो आरोपितों आदिल खान निवासी बेहटा हाजीपुर और कल्लू निवासी सरल कुंज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। आरिफ, मुशाहिद, पोली समेत चार अन्य की तलाश जारी है।

एसएसपी अमित पाठक के आदेश पर लोनी बॉर्डर थाने में ट्विटर की दो कंपनियों, मीडिया संस्थान द वॉयर, मोहम्मद जुबैर, राना अय्यूब, सलमान निजामी, मसकूर उस्मानी, समा मोहम्मद और शबा नकवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया किया है। पुलिस व खुफिया एजेंसियों की जांच में सामने आया है कि सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के लिए सुनियोजित तरीके से वीडियो वायरल किया गया था।

Post a Comment

0 Comments