किसानों से गेहूं खरीद की अंतिम तिथि 15 जून से बढ़ाकर की जाए 30 जून: विधायक रानी पक्षालिका सिंह

आगरा। उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता राजा अरिदमन सिंह ने गेहूं खरीद केंद्रों की जांच कराए जाने और वहां से बिचौलियों को हटाए जाने की मांग करते हुए भदावर हाउस से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि गेहूं खरीद केंद्रों पर अनियमितताओं के संबंध में निरंतर शिकायतें मिल रही हैं। वहां सही तरीके से किसानों का गेहूं नहीं खरीदा गया है। जिन लोगों का रजिस्ट्रेशन पहले हो गया था, उनका भी गेहूं नहीं लिया गया है।

राजा अरिदमन सिंह का कहना है कि मार्केट रेट से ₹300 ज्यादा मिनिमम सपोर्ट प्राइस होने के कारण बिचौलिए सक्रिय हो गए हैं। इससे सच्चे किसान अपना गेहूं बेचने से वंचित रह गए हैं।

उन्होंने इस पूरे प्रकरण की बारीकी से जांच कराए जाने की मांग की है ताकि यह स्पष्ट हो सके कि किसान अपना गेहूं बेचने से क्यों वंचित रह गए और बिचौलिए क्यों हावी हो गये।

वहीं विधायक रानी पक्षालिका सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से मांग की है कि गेहूं खरीद केंद्रों पर गेहूं खरीद की तिथि 15 जून से बढ़ाकर 30 जून की जाए ताकि जैनुइन किसानों का गेहूं खरीदा जा सके।
संवाद: दानिश उमरी

Post a Comment

0 Comments