कोरोना से मृत व्यापारियों के आश्रितों को मिले 10 लाख का बीमा

हापुड़। व्यापारियों की विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के पदाधिकारियों ने वाणिज्य विभाग के अधिकारियों से मुलाकात की और समस्याओं को जल्द हल करने की मांग की। इसके अलावा
व्यापार मंडल ने जीएसटी में दर्ज व्यापारी व उद्यमी की कोरोना से मौत होने पर उसके आश्रित को 10 लाख रू की बीमा राशि दिलाएं जाने की मांग की।

मण्डल के नगराध्यक्ष विजेंद्र पसांरी ने कहा कि व्यापारियों व उद्यमियों को रिकवरी नेटिस भेजने से पहले व्यापारियों के सूचित किया जाए। मंडल के महामंत्री अमन गुप्ता ने कहा कि जिन उधमियो व व्यापारियों की कोरोना में देहांत हो गया है। उनके स्थान पर जीएसटी में उसके पुत्र या पत्नी ने नाम सरलता पूवर्क चढ़ाए जाए। जिन रजिस्टर्ड व्यापारियों व उद्यमियों का कोरोना में देहांत हुआ है। उनके आश्रित को 10 लाख के बीमे की राशि प्रदान की जाए। कसेरा एसो. के महामंत्री गोविंद अग्रवाल ने कहा कोरोना के चलते जो व्यापारी अपना कैश नही करा पाऐ है उन्हे धारा 32 में खोले व्यापारियों को राहत दे। उद्यमी विजय अग्रवाल रविंद्रा ने कहा जीएसटी का आरटीसी सुगम तरिके से मिलना चाहिऐ व व्यापार बन्धु की बैठक हर माह होनी चाहिए। अशोक बबली ने कहा जो गाड़ी हापुड़ मंे मोबाइल पकडे उन्हे हापुड़ में ही चेक किया जाए।

जीएसटी अधिकारियों ने व्यापारियों को सभी समस्याओं के बारे में उचित कार्रवाई कर निस्तारण करने का आश्वासन दिया। इस दौरान विजेंद्र गर्ग, विनय पॉलीमर, सुनील जैन, विनय कुमार, रोहित अग्रवाल, साजन गुप्ता आदि मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments