Wednesday, 5 May 2021

कोरोना मुक्त भारत हो अपना, सपने को साकार करने में लगीं डॉक्टर अंकिता शर्मा

मुंबई। हमारा देश इस वक्त विपरीत परिस्थितियों से गुजर रहा है कहीं ऑक्सीजन की कमी तो कहीं वेंटीलेटर की कमी तो कहीं बेड की कमी एक-एक जान को बचाने के लिए डॉक्टर, सरकार व आमलोगों को काफी मशक्कत करना पड़ रहा है।

ऐसे में हमारे देश के डॉक्टर ने फ्रंट लाइन पर बड़ी जिम्मेदारी संभाल रखी है ऐसे ही एक डॉक्टर जो कोरोना योद्धा के रूप में रोजाना हजारों कोरोना रोगियों की सेवा कर रही हैं,यह बात खास तब बन जाती है ,जब डॉक्टर अंकिता शर्मा के बारे में यह पता चलता है कि डॉक्टर ने कोरोना मरीज की सेवा के लिए बीते कुछ दिनों से अपने घर को छोड़कर अस्पताल में ही अपना डेरा डाल लिया है।

इनके सहयोगी डॉक्टर की मानें तो डॉक्टर अंकिता शर्मा बीते कई दिनों से रात को सोई तक नहीं है, रोगियों के प्रति समर्पण इस वक्त, इस विकट परिस्थिति में भी समाज के लिए लगन, सेवा व मेहनत के साथ खड़ा होना वाकई यह बहुत बड़ी बात है।

 डॉ अंकिता शर्मा अभी मुंबई के सेवन हिल्स हॉस्पिटल में कार्यरत है । डॉक्टर अंकिता शर्मा की माने तो देश अभी विकट परिस्थितियों से गुजर रहा है ऐसे में एक इंसान होने के नाते हमारा यह फर्ज बनता है कि हम एक-एक जान की कीमत को समझें और यथासंभव उसे बचाने में अपना योगदान दें। 

डॉक्टर को समाज में भगवान का रूप कहा गया है अब वह समय आ गया है फ्रंटलाइन पर मौजूद भारत के सभी डॉक्टर योद्धा के रूप में लड़े और एक-एक जान को बचाएं, मैं कुछ भी नहीं कर रही बस एक इंसान और डॉक्टर होने का फर्ज अदा कर रही हूं।

इस समाज के प्रति जो मेरी जिम्मेदारी है मैं कोशिश कर रही हूं कि उसका निर्वाह कर सकूं और मैं समाज के लोगों से भी अपील करूंगी कि वह इस कोरोना काल में मानवता और इंसानियत को ना मरने दे और जहां तक हो सके लोगों की मदद करें।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: