Wednesday, 26 May 2021

चक्रवात यास के कारण आने वाले कुछ घण्टों में हो सकती हैं बारिश

रायपुर।  छत्तीसगढ़ में ओडिशा और झारखंड से लगे जिलों में चक्रवाती तूफान 'यास' का असर दिखेगा. 'यास' के कारण प्रदेश में नमी आनी शुरू हो गई है. कई जिलों में हल्के बादल छाए रहेंगे. राजधानी सहित कुछ जगहों पर दोपहर के बाद आंधी के साथ तेज बौछारें पडऩे की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़ के पड़ोसी राज्यों ओडिशा और झारखंड के एक-दो जगहों पर भारी बारिश और बिजली चमकने की संभावना है. वहीं तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. दोनों राज्यों से लगे प्रदेश के जिलों में 26 से 29 मई तक बारिश हो सकती है. आज से भीषण गर्मी का काल 'नौतपा' शुरू हो गया है, जो कि 2 जून तक रहेगा.

कोरबा के पोड़ी उपरोड़ा क्षेत्र में 'तौकते तूफान' का असर, 30 से अधिक मकान तबाह'यास' तूफान का दिखेगा हल्का असरप्रदेश में इन दिनों गर्मी कम है. हर साल की तुलना में इस साल अधिकतर जिलों के अधिकतम तापमान में एक से पांच डिग्री सेल्सियस तक की कमी देखी जा रही है. मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़ में गर्मी के बढऩे के आसार कम नजर आ रहे हैं. हालांकि 'नौतपा' शुरू होने से रायगढ़ का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस है. मई में लगातार पश्चिमी विक्षोभ के ऊपरी हवा का चक्रवात द्रोणिका, 'तौकते' तूफान के बाद अब 'यास' तूफान के असर से बंगाल की खाड़ी से प्रदेश में हल्की नम हवा आने लगी है, जिससे बारिश की संभावना है.छत्तीसगढ़ के बस्तर में दिखा 'तौकते' तूफान का असरअधिकतम तापमान में ज्यादा बदलाव नहीं 'यास' तूफान के कारण आने वाले दो दिनों तक गर्मी बढऩे के आसार कम दिख रहे हैं. मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के अनुसार दक्षिण बिहार के ऊपर 3.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर चक्रवात बना हुआ है. 'यास' के असर से प्रदेश में जो नमी आ रही है, उसके कारण प्रदेश के अधिकतम तापमान में कुछ खास परिवर्तन होने की संभावना नहीं है.
तबाह'यास' तूफान का दिखेगा हल्का असरप्रदेश में इन दिनों गर्मी कम है. हर साल की तुलना में इस साल अधिकतर जिलों के अधिकतम तापमान में एक से पांच डिग्री सेल्सियस तक की कमी देखी जा रही है. मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़ में गर्मी के बढऩे के आसार कम नजर आ रहे हैं. हालांकि 'नौतपा' शुरू होने से रायगढ़ का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस है. मई में लगातार पश्चिमी विक्षोभ के ऊपरी हवा का चक्रवात द्रोणिका, 'तौकते' तूफान के बाद अब 'यास' तूफान के असर से बंगाल की खाड़ी से प्रदेश में हल्की नम हवा आने लगी है, जिससे बारिश की संभावना है.छत्तीसगढ़ के बस्तर में दिखा 'तौकते' तूफान का असरअधिकतम तापमान में ज्यादा बदलाव नहीं'यास' तूफान के कारण आने वाले दो दिनों तक गर्मी बढऩे के आसार कम दिख रहे हैं. मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के अनुसार दक्षिण बिहार के ऊपर 3.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर चक्रवात बना हुआ है. 'यास' के असर से प्रदेश में जो नमी आ रही है, उसके कारण प्रदेश के अधिकतम तापमान में कुछ खास परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: