Friday, 21 May 2021

बालू खदान में आकाशीय बिजली गिरने से धमाका, माइनिंग मेठ की मौत

राकेश पाण्डेय
वाराणसी।
सोनभद्र जिले के डाला पुलिस चौकी क्षेत्र में बृहस्पतिवार को अकाशी बिजली गिरने के कारण अघोर सेवा सदन बाड़ी डाला लंगड़ा मोड़ के पास खदान में ईडी (इलेक्ट्रिक डेटोनेटर) की जांच करते हुए अचानक बिजली गिरने से ब्लास्ट हो गया जिससे माइनिंग मेठ की मौत हो गई। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार चोपन थाना क्षेत्र के बाड़ी लंगा मोड़ स्थित चालू खदान में लगभग 1:30 बजे ईडी की जांच करते समय अचानक गरज होते हुए बारिश के साथ बिजली गिरी और विस्फोट हो गया जिसके कारण मौके पर ही माइनिंग मेठ नंद लाल यादव उम्र लगभग 28 वर्ष पुत्र हरीनाथ यादव निवासी, बिजौरा जुगैल थाना क्षेत्र की मौत हो गई। 

जिसे जिला अस्पताल ले जाया गया जहा चिकित्सक द्वारा मृतक घोषित कर दिया गया और सूचना पाकर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा की कार्रवाई की पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया गया। 

वहीं दूसरी खदान में लगभग 4:00 बजे पुनः बिजली चमकने से भयंकर विस्फोट हो गया विस्फोट के दौरान खदान से लगभग 50 मीटर दूर बस्ती के बीच से होकर गुजरने वाली सड़क को लगभग 2 घंटे से ज्यादा खदान में होल फसे होने के कारण सड़क में जाम लगा रहा इसके दौरान लगभग 4:00 बजे अचानक विस्फोट होने से लोगों मे भय व्याप्त हो गया। 

खदानों में बड़े पैमाने पर विस्फोट होने की सूचना लोगों में चर्चा का विषय बन गया चर्चा की मौसम खराब होने से कभी भी किसी समय घटना कर सकती है सूचना मिलते हुए ही शासन प्रशासन मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गए इस घटना के कारण हुए सड़क जाम को तत्काल ही खुलवाया गया और घटनास्थल का निरीक्षण कर मौके पर देखा और खदानों में विस्फोट भरा हुआ है। 

लोगों में चर्चा का विषय सूत्रों की माने तो एक खदान में एक माइनिंग मेठ के ऊपर 80 होल पास होता है। 

तो आए दिन ब्लास्टिंग कैसे और बारिश व खराब मौसम के दौरान खदानों में हैवी विस्फोट का प्रयोग किया जाना प्रतिबंधित होता है। तो किसके आदेशानुसार मटेरियल सप्लायर मटेरियल खदान में सप्लाई किया खान विभाग ने इसको लेकर सख्त रहता है और इसके बावजूद भी घटना हो जाते हैं इसका दोषी कौन?

इस तरह घटनाओं से पास के लोगों को भय प्रतिदिन बना रहता है जिसको लेकर खान विभाग, डीजीएमएस वाराणसी/गाजियाबाद से लोगों ने अपील किया जिसकी उच्च स्तरीय जांच किया जाना चाहिए और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई हो। 

इस संबंध में डाला चौकी प्रभारी एस के सोनकर ने बताया कि ईडी जांच के दौरान अचानक से बिजली चमकने के वजह से यह घटना घट गई खबर लिखे जाने तक पुलिस मामले को लेकर जांच में जुटी है। 

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: