Sunday, 23 May 2021

कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है, तुरंत खून की जांच कराएं

कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है, तुरंत खून की जांच कराएं

भोपाल-डीवीएनए। जिला मलेरिया और डेंगू से बचाव के लिए लगातार व्यापक सर्वे और परीक्षण अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही शहरी स्वास्थ्य पोषण दिवस में आई गर्भवती महिलाओं को मच्छरदानी में सोने हेतु समझाइश दी। चूंकि गर्भवती महिला और 0 से 5 वर्ष तक के बच्चे को मलेरिया और डेंगू का खतरा ज्यादा रहता है।
मौसम मच्छरों की पैदावार के अनुकूल हो चुका है, बारिश हो चुकी है चूंकि मौसम में बदलाब हो रहा है, ऐसे मौसम में मच्छर ज्यादा संख्या में अंडा देते है चूंकि, जगह-जगह पानी भर गया है, मादा मच्छर हमेशा रुके या जमा हुए पानी मे अंडा देता है, अंडे से लार्वा, एवं लार्वा से अंत में प्यूपा में बदलकर मच्छर बनता है। इस प्रक्रिया में लगभग 10 से 12 दिन लगते है। हमें ध्यान रखना है, की हम लोगों ने जो सकोरे या अन्य बर्तन पक्षियों को पानी पिलाने हेतु रखे थे उन्हें उलटकर या ढक कर अपने घर के अंदर रख ले, क्योंकि ये पात्र पानी संचय और लार्वा की पैदाइश के लिए बहुत अनुकूल है।
जिला मलेरिया अधिकारी अखिलेश दुबे के मार्गदर्शन में फैमिली हेल्थ इंडिया एम्बेड की टीम नियमित रूप से लार्वा सर्वे बुखार का सर्वे जारी है, जहाँ लार्वा मिलता है उसे नष्ट किया जाता है एवं अनुपयोगी समान को नष्ट किया जाता है या घर में अलग एक जगह रखा जाता है जहाँ पानी का सोर्स नही हो, जिला समन्वयक एम्बेड डॉ. संतोष भार्गव, कार्यक्रम सहायक श्रीमती रंजना सिंह एवं बीसीसीएफ के द्वारा नियमित रूप से घर-घर जाकर लोगों को डेंगू मलेरिया से बचाव हेतु बताया जा रहा है।
डेंगू सप्ताह के अंतर्गत आज वार्ड क्रमांक-54, 55, 57, 58, 64 के जनता क्वार्टर, अन्ना नगर, बागसेवनिया, आनंद विहार आदि क्षेत्रों में घर-घर जाकर लार्वा का सर्वे किया। इस दौरान लोगो को डेंगू एवं मलेरिया के बारे में फ्लिप बुक व मॉड्यूल के माध्यम से समझाया। जिसमे मुख्य रूप से मलेरिया एवं डेंगू के बचाव, मच्छर दानी का नियमित उपयोग, पूर्ण उपचार व जांच के बारे में बताया, साथ ही लोगों को मच्छर नहीं पनपने देने हेतु शपथ दिलाई एवं सभी ने हाथ धुलाई का डेमो देकर दिखाया और उपस्थित सभी को सैनिटाइज भी वितरित किये। इस मोके बीसीसीएफ श्री अनिता, इंदु, प्रशांत, सुनील के द्वारा कुल 170 घरों का सर्वे किया जहाँ सभी 170 लोगो को सैनिटाइजर वितरित किये।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: