सुप्रीम कोर्ट में याचिका, कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच चुनावी प्रक्रिया पर लगे रोक

नई दिल्ली। वकील विशाल ठाकरे और आदित्य यादव ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है. जिसमें वो देश में बढ़ रहे कोरोना मामलों में वृद्धि का हवाला देते हुए चुनावी प्रक्रिया को रोकने के लिए एक दिशा निर्देश चाहते हैं. याचिका में कहा गया है कि चुनाव प्रचारों के दौरान बड़े पैमाने में सभाएं की जा रही हैं जिससे कोरोना के बढऩे का खतरा सबसे ज्यादा है. कई शक्तिशाली नेता इस कथित उल्लंघन के लिए जिम्मेदार हैं और उन्हें किसी भी प्राधिकरण या एजेंसी द्वारा उनके कार्यों के लिए दंडित नहीं किया जाता है.

याचिका में कहा गया है कि चुनावों में बड़ी रैलियों का आयोजन किया जा रहा है, नियमों की अनदेखी की जा रही है, जिससे संक्रमण बढऩे का खतरा है. याचिका में आगे कहा गया है कि गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए मेडिकल बुलेटिन कोविड-19 स्थिति पर गंभीर चिंता जताते हैं, जबकि कई राज्यों में चुनाव प्रचार के लिए विशाल रैली के साथ, कई राज्यों में चुनावी रैली आयोजित करने वाले शक्तिशाली नेता किसी भी प्राधिकरण या एजेंसी द्वारा अनियंत्रित रहते हैं. वहीं शीर्ष अदालत के सूत्रों के अनुसार, याचिका पर एक सप्ताह से पहले सुनवाई आने की संभावना है.

24 घंटों में देश भर में संक्रमण के 1,26,260 नए केस
वहीं देशभर में कोरोना का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. पिछले 24 घंटों में देश भर में संक्रमण के 1,26,260 नए केस दर्ज किए गए हैं. इसमें सिर्फ महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 59,907 मामले सामने आए. देश में लगातार दूसरे दिन नए केस की संख्या 1 लाख के पार गई है. बढ़ते मामलों के कारण राज्य सरकार लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू जैसे कदम उठा रहे हैं.

Post a Comment

0 Comments