यहां शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए नहीं होगी किसी लड़की की जरूरत, बस ये चीज़ ही काफी है...

दुनिया में कई देश ऐसे हैं जहां प्रॉस्‍टीट्यूशन पर पूरी तरह से पाबंदी है। ऐसे में दूसरा विकल्‍प निकाला गया है जिसके तहत कस्‍टमर ह्यूमन प्रॉस्‍टीट्यूट की जगह रोबोट डॉल का इस्‍तेमाल कर सकेंगे और इसकी शुरुआत हो रही है यूके में। जहां लव मेकिंग के लिए अलग से वेश्‍यालय खोला जाएगा।
लड़कियों की जगह होंगी रोबोट:
रिपोर्ट के मुताबिक यूके में प्रॉस्‍टीट्यूशन का एक बड़ा बाजार है। ऐसे में कई जगह यह चोरी-छिपे चलाया जाता है लेकिन इतनी बड़ी सेक्‍स इंडस्‍ट्री को देखते हुए यहां बड़े बदलाव किए जा रहे हैं। अब यहां इंसानों की जगह सेक्‍स रोबोट ले लेंगे। 
वही अहसास:
सेक्‍स डॉल बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी 'रियल डॉल' ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस रोबोट बनाने की शुरुआत कर दी है। ये सेक्‍स डॉल अब प्रॉस्‍टीट्यूट की जगह लेंगी और कस्‍टमर को उसी तरह अहसास कराएंगी जो लड़कियां कराती हैं। 
सेक्‍स डॉल इंसानों से ज्‍यादा सुरक्षित:
फिल्‍मों में दिखने वाले सेक्‍स रोबोट इतनी जल्‍दी हकीकत बन जाएंगे यह किसी ने नहीं सोचा था। इस क्षेत्र से जुड़े लोगों की मानें तो ये आर्टिफिशियल सेक्‍स डॉल इंसानों से ज्‍यादा सुरक्षित हैं। इनसे कोई बीमारी भी नहीं फैलेगी, यानी कि कस्‍टमर बेझिझक लव मेकिंग कर सकेंगे। 
कम कीमत ज्यादा आनंद:
अगले 10 सालों में ह्यूमन रोबोट सेक्‍स काफी आम बात हो जाएगी। लोग इंसानों से ज्‍यादा रोबोट के साथ इंटीमेट होने में ज्‍यादा खुश होंगे। इसके अलावा एक प्रॉस्‍टीट्यूट एक रात का जितना चार्ज लेती है उससे कम कीमत में यह रोबोट आ जाएंगे।

Post a Comment

0 Comments