12 साल की उम्र के बाद यहां लड़की को बना दिया जाता है लड़का

यह गांव डोमिनिकन रिपब्लिक के दक्षिण पश्चिम में है। इस गांव का नाम सालिनास है। बीबीसी की विज्ञान सीरीज 'काउंटडाउन टू लाइफ-द एक्स्ट्राआर्डनरी मेकिंग ऑफ यू' में सालिनास के बच्चों की कहानी दिखाई गई है। टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सालिनास में 90 में से एक बच्चे में यह दुर्लभ विकार सामने आता है।डोमिनिकन रिपब्लिक के एक हिस्से में कुछ ऐसा हो रहा है जो दुनिया में कहीं नहीं होता। यहां लड़कियां 12 साल की उम्र के बाद लड़का बन जाती हैं। इस उम्र के बाद लड़कियों की आवाज बदलने लगती है। बात-बात पर मूड चेंज हो जाता है। इतना ही नहीं इस उम्र में ही लड़कियों में लड़कों का लिंग विकसित होने लगता है। इससे पहले तक लोग इन लड़कों को लड़की समझते हैं।
#इस बात को सबसे पहले दिखाया गया बीबीसी की विज्ञान श्रृंखला 'काउंटडाउन टू लाइफ-द एक्स्ट्राआर्डनरी मेकिंग ऑफ यू' में।
# इस कहानी के मुताबिक बच्चों में इस तरह का डेवलपमेंट एक अनुवाशिंक विकार के तहत होता है। सालिनास में पाये जाने वाले ऐसे बच्चों को 'गुएवेडोसेस' कहा जाता है जिसका अर्थ है- 12 की उम्र में लिंग।
#ऐसे बच्चे जब मां की पेट में होते हैं तो उनके अंदर एक एंजाइम की कमी होती है, जिसकी वजह से उनके अंदर मेल-आर्गन नहीं बनता है। और लोगों को लगता है कि वो फीमेल योनी वाला बच्चा है।
#लेकिन जब बच्चे की उम्र 12 साल होती है तो बच्चे के अंदर पुरुष सेक्स हारमोन-डिहाइड्रो टेस्टोसटेरोन डेवलप होता है जिसके कारण उसके मेल आर्डन डेवलप हो जाते हैं।
#ऐसे बच्चे को जो पोषण मां के पेट में मिलना चाहिए, वो अब 12 साल की उम्र में मिलता है जिसकी वजह से बच्चे के अंदर यह अजीब सी प्रक्रिया हो जाती है।
#वैसे ऐसे बच्चे पूरी तरह से स्वस्थ होते हैं और बड़े होने पर इन्हें वैवाहिक जीवन और संतान पैदा करने में कोई दिक्कत नहीं होती है।

Post a Comment

0 Comments