BF के साथ मिलकर पत्नी ने कर दिया पूरे परिवार का खात्मा

महज दस दिन पहले शादी के बाद ससुराल पहुंची दुल्हन ने प्रेमी के साथ मिलकर पति को शर्बत में जहर देकर जान से मारने की कोशिश की। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे मोहल्ले के लोगों ने प्रेमी-प्रेमिका की जमकर धुनाई की। साथ ही मामले की सूचना पुलिस को दी। पति को गंभीर स्थिति में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मिठनपुरा थानाध्यक्ष विजय प्रसाद राय ने बताया कि पीड़ित पति अविनाश की मां तारामुनी देवी के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर प्रेमी-प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया गया है। दुल्हन का नाम वंदना उर्फ डॉली और उसके कथित प्रेमी का नाम सन्नी बताया गया है। सन्नी बुधवार को दिल्ली से मुजफ्फरपुर पहुंचा था। ससुराल के लोगों से वंदना उर्फ डॉली ने सन्नी का परिचय अपने भाई के रूप में कराया था। दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।
मालीघाट सुंदरबाग में किराये के मकान में रहने वाले रिटायर्ड बीएमपी जवान सिद्धेश्वर सिंह के पुत्र अविनाश की शादी रस्मो-रिवाज के साथ 25 जून को पैतृक गांव आरा के अलीपुर में हुई। पत्‍‌नी वंदना सिंह उर्फ डॉली आरा के ही हरदिया मोहल्ले की है। अविनाश सपरिवार 28 जून को मालीघाट लौट आए। इसके अगले दिन डॉली की मां व उसके भाई भी मालीघाट अपनी बेटी से मिलने आए और तीन जुलाई को पुन: आरा लौट गए। चार जुलाई यानी बुधवार की शाम दिल्ली से सन्नी भाई के रूप में डॉली की ससुराल पहुंचा। रात में भोजन के पहले डॉली के साथ मिलकर उसने दिल्ली से लेकर आया एक शर्बत अविनाश समेत परिवार के सभी सदस्यों को पीने के लिए दिया और खुद भी पीया। शर्बत से और किसी को तो कुछ नहीं हुआ, लेकिन अविनाश की तबीयत बिगड़ने लगी। जवान बेटे की ऐसी हालत देखते ही परिवार में चीख-पुकार मच गई। शोर सुनकर मोहल्ले के लोग भी वहां पहुंचे। भय से शीघ्र ही डॉली ने सन्नी के साथ अपना प्रेम प्रसंग सरेआम कर दिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों को जेल भेजने की तैयारी चल रही है।

Post a Comment

0 Comments