ऐसा सिर्फ हिंदुस्तान में ही होता है...





"जुगाड़" ये एक शब्द ऐसा है, जिसे बोलने के बाद नामुमकिन काम भी मुमकिन होता जाता है। इंडिया की जुगाड़ विदेशों में भी मशहूर है। विदेशियों की एक बात समझ में नही आती कि जुगाड़ चमत्कार है या फिर विज्ञानं? इसी को लेकर विदेशी वैज्ञानिकों ने इंडिया की जुगाड़ पर शोध भी किये, लेकिन वह असफल रहे।

भारत एक प्रतिभाशाली देश है। यहाँ प्रतिभा घर घर जन्म लेती है। बस गरीबी और मजबूरियों के बोझ में दबकर प्रतिभा आत्महत्या कर लेती है।

अगर मानवीय प्रेम एवं पशु प्रेम की बात करें तो भगवान के बाद हम भारतीय नेताओं को भगवान मानते हैं। पशु प्रेम इतना की कि गाय को माता का दर्जा देते हैं।

अब मैं असल मुद्दे पर आता हूँ। हमारे देश में वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर को नंबर प्लेट पर इस तरह लिखवाया जाता है कि मानवीय प्रेम, धार्मिक भक्ति, नेताओं से प्रेम और जाति से प्रेम प्रदर्शन साफ झलकता है। कुछ ऐसी नंबर प्लेट ट्रैफिक पुलिस के सामने आती हैं जिन्हें देखकर ट्रैफिक पुलिसकर्मी अपना सिर पीटने लगते हैं, लेकिन वह इंडिया की जुगाड़ देखकर खुश भी होते हैं और कुछ भी सही बंदे के पास दिमाग है? बताइये क्या जुगाड़ की है?

वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर से छेड़छाड़ करना कानूनन अपराध है, लेकिन इन जुगाड़ू व्यक्तियों के विरोध कोई ठोस कार्रवाई न किये जाने के कारण वाहनों की अजीबो-गरीब नंबर प्लेट देखने को मिल रही हैं।









Post a Comment

0 Comments