83 साल का दूल्हा और 30 साल की दुल्हन, धूमधाम से निकली बारात, पहली पत्नी भी खुश

नई दिल्ली। राजस्थान में 83 साल के बुजुर्ग ने बेटे की चाहत में 30 साल की लड़की से शादी रचाई है। इसमें मौजूदा पत्नी की रजामंदी पर ही सुखराम बैरवा ने दूल्हा बनने के लिए सेहरा बांधा और घोड़ी भी चढ़ी। 
उनकी बरात भी गाजे-बाजे के साथ दूसरे गांव पहुंची। वहीं, बुजुर्ग दूल्हे से 53 साल छोटी रमेशी के साथ 7 फेरों में समाज के पंच-पटेल और रिश्तेदार गवाह बने।
शनिवार को सैंमरदा गांव में बैंड-बाजे डीजे की धुन पर घोड़ी पर सवार दूल्हा सुखराम बैरवा की निकासी पूरे रीति-रिवाजों के अनुरूप हुई। गांव की महिलाओं ने मंगल गीत गाए और खुशी का इजहार किया। दूल्हा के चेहरे पर भी बुढ़ापे में शादी की मुस्कान नजर आई।
इसी प्रकार गांव राहिर में तोरण मारने से पहले धूम-धड़ाके से चढ़ाई की रस्म अदायगी भी हुई। बरातियों ने जमकर नाच-गान भी किया। खास बात यह है कि इस शादी में बुजुर्ग की बेटियां, दामाद और नाती भी शामिल हुए।

Post a Comment

0 Comments